Wednesday, March 22, 2017

Digital India: भारत में इस समय 10 महत्वपूर्ण मुद्दे । Top 10 issu...

Digital India: भारत में इस समय 10 महत्वपूर्ण मुद्दे । Top 10 issu...: भारत में इस समय 10 महत्वपूर्ण मुद्दे।  भारत में इस समय जो महत्वपूर्ण मुद्दों पर बात हो रही है, में आज उनके ऊपर थोड़ा सा प्रकाश डाल रही हूँ।...

Tuesday, March 14, 2017

क्या यही जीवन की सच्चाई है। Think about it !!!

सोचो साथ क्या जायेगा। 

*एक बेहतरीन मैसेज....* क्या यही जीवन की सच्चाई है। 

क्या हम *बिल्डर्स, इंटीरियर डिजाइनर्स, केटरर्स और डेकोरेटर्स के लिए कमा रहे हैं ???*

*हम बड़े बड़े क़ीमती मकानों और बेहद खर्चीली शादियों से* किसे इम्प्रेस करना चाहते हैं ???

क्या आपको याद है कि, *दो दिन पहले किसी की शादी पर आपने क्या खाया था ???*

जीवन के प्रारंभिक वर्षों में *क्यों हम पशुओं की तरह काम में जुते रहते हैं ???*

कितनी पीढ़ियों के *खान पान और लालन पालन की व्यवस्था करनी है हमें ???*

हम में से *अधिकाँश लोगों के दो बच्चे हैं। बहुतों का तो सिर्फ एक ही बच्चा है।*

हमारी जरूरत कितनी हैं और *हम पाना कितना चाहते हैं ???*
*इस बारे में सोचिए।*

क्या हमारी *अगली पीढ़ी कमाने में सक्षम नहीं है जो, हम उनके लिए ज्यादा से ज्यादा सेविंग कर देना चाहते हैं !?!*

क्या हम *सप्ताह में डेढ़ दिन अपने मित्रों, अपने परिवार और अपने लिए स्पेयर नहीं कर सकते ???*

क्या आप *अपनी मासिक आय का 5 % अपने आनंद के लिए, अपनी ख़ुशी के लिए खर्च करते हैं ???*
*सामान्यतः जवाब नहीं में ही होता है।*

*हम कमाने के साथ साथ आनंद भी क्यों नहीं प्राप्त कर सकते ???*

इससे पहले कि *आप स्लिप डिस्क्स का शिकार हो जाएँ, इससे पहले कि, कोलोस्ट्रोल आपके हार्ट को ब्लॉक कर दे, आनंद प्राप्ति के लिए समय निकालिए !!!*

*हम किसी प्रॉपर्टी के मालिक नहीं होते, सिर्फ कुछ कागजातों, कुछ दस्तावेजों पर अस्थाई रूप से हमारा नाम लिखा होता है।*

*ईश्वर भी व्यंग्यात्मक रूप से हँसेगा जब कोई उसे कहेगा कि, " मैं जमीन के इस टुकड़े का मालिक हूँ " !!*

किसी के बारे में, *उसके शानदार कपड़े और बढ़िया कार देखकर, राय कायम मत कीजिए।*

हमारे *महान गणित और विज्ञान के शिक्षक स्कूटर पर ही आया जाया करते थे !!*

धनवान होना गलत नहीं है *बल्कि सिर्फ धनवान होना गलत है।*

*आइए जिंदगी को पकड़ें, इससे पहले कि, जिंदगी हमें पकड़ ले...*

एक दिन *हम सब जुदा हो जाएँगे, तब अपनी बातें, अपने सपने हम बहुत मिस करेंगे।*

*दिन, महीने, साल गुजर जाएँगे, शायद कभी कोई संपर्क भी नहीं रहेगा। एक रोज हमारी बहुत पुरानी तस्वीर देखकर हमारे बच्चे हम से पूछेंगे कि, " तस्वीर में ये दुसरे लोग कौन हैं ?? "*

*तब हम मुस्कुराकर अपने अदृश्य आँसुओं के साथ बड़े फख्र से कहेंगे---" ये वो लोग हैं, जिनके साथ मैंने अपने जीवन के बेहतरीन दिन गुजारे हैं। "*

*इस मैसेज को अपने उन सभी मित्रों को पोस्ट कीजिए, जिन्हें आप कभी भूल नहीं पाएँगे।*

*उन्हें पोस्ट कीजिए जो कभी भी आपकी मुस्कान की वजह बने थे।*

Thursday, March 9, 2017

Accidental Death & Compensation: (Income Tax Return Required)



Section 166 of the Motor act

1988 (Supreme Court Judgment under Civil Appeal No. 9858 of 2013
Car Accident

Arising out of SLP (C) No. 1056 of 2008) Dt 31 Oct 2013.


Accidental Death & Compensation:
(Income Tax Return Required)

अगर किसी व्यक्ति की accidental death होती है और वह व्यक्ति पिछले तीन साल से लगातार इनकम टैक्स रिटर्न फ़ाइल कर रहा था तो उसकी पिछले तीन साल की एवरेज सालाना इनकम की दस गुना राशि उस व्यक्ति के परिवार को देने के लिए सरकार बाध्य है ।
जी हाँ , आपको आश्चर्य हो रहा होगा यह सुनकर लेकिन यह बिलकुल सही सरकारी नियम है , उदहारण के तौर पर अगर किसी की सालाना आय क्रमशः पहले दूसरे और तीसरे साल चार लाख पांच लाख और छः लाख है तो उसकी औसत आय पांच लाख का दस गुना मतलब पचास लाख रूपए उस व्यक्ति के परिवार को सरकार से मिलने का हक़ है।
ज़्यादातर जानकारी के अभाव में लोग यह क्लेम सरकार से नहीं लेते हैं ।
जाने वाले की कमी तो कोई पूरी नहीं कर सकता है लेकिन अगर पैसा पास में हो तो भविष्य सुचारू रूप से चल सकता है ।
अगर लगातार तीन साल तक रिटर्न दाखिल नहीं किया है तो ऐसा नहीं है कि परिवार को पैसा नहीं मिलेगा लेकिन ऐसे केस में सरकार एक डेढ़ लाख देकर किनारा कर लेती है, लेकिन अगर लगातार तीन साल तक लगातार रिटर्न फ़ाइल किया गया है तो ऐसी स्थिति में केस ज़्यादा मजबूत होता है और यह माना जाता है कि मरने वाला व्यक्ति अपने परिवार का रेगुलर अर्नर था और अगर वह जिन्दा रहता तो अपने परिवार के लिए अगले दस सालो में वर्तमान आय का दस गुना तो कमाता ही जिससे वह अपने परिवार का अच्छी तरह से पालन पोषण कर पाता ।
सब सर्विस वाले लोग हैं और रेगुलर अर्नर हैं लेकिन बहुत से लोग रिटर्न फ़ाइल नहीं करते है जिसकी वजह से न तो कंपनी द्वारा काटा हुआ पैसा सरकार से वापस लेते हैं और न ही इस प्रकार से मिलने वाले लाभ का हिस्सा बन पाते हैं ।
इधर जल्दी में हमारे कई साथी / भाई एक्सीडेंटल डेथ में हमारा साथ छोड़ गए लेकिन जानकारी के अभाव में उनके परिवार को आर्थिक लाभ नहीं मिल पाया ।

अगर आप I.T. Return फाइल नहीं करते अब जरूर फ़ाइल करें ।

Section 166 of the Motor act

1988 (Supreme Court Judgment under Civil Appeal No. 9858 of 2013

Arising out of SLP (C) No. 1056 of 2008) Dt 31 Oct 2013.

Wednesday, March 8, 2017

#No.1 Excel Macros. Macro in Excel. Learn Macro.



How to record a macro in Excel. Watch video and learn Excel. You can simple click on video icon and watch that how macro work in excel. Please share video in your social network. If you have any question related macro or Excel please comment me so I can suggest you best answer, Thanks for watching, Subscribe the channel for upcoming videos on excel tutorials.

Monday, March 6, 2017

#1 Excel 2017 I page setup I I Page setup in Excel 2017 I



पेज सेट अप इन एक्सेल 

कंप्यूटर में माइक्रोसॉफ्ट एक्सेल आप के ऑफिस/बिज़नस/स्माल/शॉप वर्क को आसान बनांने के लिए बेहतरीन एप्लीकेशन है। आइये आज अपन इस एप्लीकेशन में पेज सेटअप कैसे करते है, जानते है।
सबसे पहले आप ने जो काम एक्सेल में किया है उस फाइल को ओपन कर लें।  उसके बाद फाइल मेनू में जाये और प्रिंट के ऑप्शन पर माउस को लेकर जाएँ । अब आपके सामने तीन ऑप्शन होंगे जहाँ पर आप को प्रिंट preview के ऑप्शन पर क्लिक करना है।  क्लिक करते ही कंप्यूटर आप को आप की फाइल जिस में आप ने काम किया है उसका preview दिखायेगा की आप का पेज प्रिंट होने के बाद ऐसा आएगा। यहाँ पर आप को प्रिंट, पेज सेट अप, ज़ूम, नेक्स्ट पेज, शो मार्जिन, व क्लोज प्रिंट preview दिखायेगा।  आप को पेज सेट अप पर क्लिक करना है। अब आप को नेक्स्ट ऑप्शन पेज सेट अप का दिखायेगा जिसमे आप को चार ऑप्शन मिलेंगे
 1. Page 2.Margin 3. Header/Footer and 4. Sheet
आप को पेज में कई ऑप्शन मिलेंगे जहाँ पर आप अपने पेज को पोर्ट्रेट लेना कहते है तो इसे टिक कर दे। अगर आप को लैंडस्केप प्रिंट चाहिए तो आप इसे टिक कर दे। फिर नीचे स्केलिंग ऑप्शन में को दो ऑप्शन मिलेंगे एडजस्ट to and fit to यहाँ आप अगर एडजस्ट तो को 100 % रखते है तो ये by defalt  होता है।  अगर आप अपने कंटेंट को एक ही पेज में लेना चाहते है तो fit to ऑप्शन का चयन करे।  इसमें एक्सेल आप के कंटेंट को एक ही पेज पर प्रिंट कर देगा, लेकिन वह इसे फिट करेगा यानि फोंट की साइज को छोटा करेगा ताकि आप का प्रिंट एक ही पेज पर आ जाये।  ये एक्सरसाइज़ ठीक नहीं होती।  क्यंकि इस में कंप्यूटर पुरे कंटेंट को जितना आप ने एक्सेल फाइल में लिखा है, और सेलेक्ट कर के प्रिंट के लिए कमांड दिया है उसे एक ही पेज पैर प्रिंट कर देगा। अगर आप का कंटेंट ज्यादा है और आप ने सेलेक्ट कर के कमांड दे दिया तो एक्सेल उसे एक ही पेज में प्रिंट करने के लिए छोटा कर देगा। इसलिए आप नार्मल साइज जो 100 % है उस पैर ही रखे। नीचे पेपर साइज का ऑप्शन दिया है जिसमे आप A4 size का सलेक्शन करें। फिर प्रिंट क्वालिटी जो 600 dpi है उसे चेंज न करे। आगे आप को पेज पर अगर नम्बरिंग चाहिए तो आप उसे auto ऑप्शन पर रहने दे।
2. Margin 
मार्जिन ऑप्शन सबसे महत्वपूरण है। इसमें आप अपने पेज का मार्जिन सेट करेंगे। इसमें अगर आप ने मार्जिन ऊपर नीचे व दाएं बाएं बराबर रखा है तो आप का प्रिंट बिलकुल पेज के सेण्टर में आएगा। नीचे ऑप्शन सेंटर न पेज दिया है, उसमे दो ऑप्शन हैं। होरिजेंटल व वर्टीकल। होरिजेंटल पेज पैर प्रिंट को ऊपर की साइड में प्रिंट करने के लिए टिक करें।  वर्टीकल प्रिंट को पेज के बीच में प्रिंट करेगा।  दोनों को टिक करेंगे तो पेज प्रिंट को बिलकुल सेंटर में करेगा।
3. Header/Footer
इसमें आप अपने पेज के प्रिंट पर जो हेड में व बिलकुल नीचे प्रिंट चाहते है , उसे कस्टमाइज़ कर सकते है। जैसे आप के बिज़नस या शॉप का नाम ऊपर आ जाये व एड्रेस वगेरह नीचे आ जाये तो आप दोनों सेक्शन में उसे लिख देंगे तो कंप्यूटर उसे हेड में व पेज के बिलकुल नीचे प्रिंट कर देगा। जैसे कोई लेटर हैड होता हो।
4. Sheet
शीट में  एरिया सेलेक्ट कर सकते है।  कमांड दे सकते है की ये वाली रो मेरे को दुबारा यहाँ कहिये प्रिंट में वगेरह।

तो इस प्रकार अपन ने पेज सेटअप का प्रयोग करके अपने काम को आसान बना सकते है। विडियो में आप सकते है। एक्सेल पर और आने वाले विडियो के चैनल को सब्सक्राइब करे। आप को आर्टिकल कैसा लगा मुझे कमेंट करके जरूर बताए।
धन्यवाद !

Saturday, March 4, 2017

Excel Chart Progress between Pak Vs India. How to Insert a chart.



आज तक अपन ने क्रिकेट मैच में जो ग्राफ दिखाए जाते है वो टीवी पर ही देखा है।  ये ग्राफ बनते कैसे है, ये जानने, सीखने के लिए आप वीडियो देखें। देखें कैसे ग्राफ बनता है , जैसे जैसे रन बनते है, वैसे वैसे ग्राफ जो टीवी पर दिखाया जाता है।  

Featured Post

Do you know ? क्या आप जानते है ? This skills help you to..!

अपनी आवाज को टाइपिंग में बदलें। अगर आप एक ब्लॉगर हैं या लेखक हैं तो यह वीडियो आपकी मदद कर सकता है। इस वीडियो के अंदर मैं आपको यह बता रह...